राज्य

हत्या-आत्यहत्या की गुत्थी सुलझाने में जुटी पुलिस एटा में एक ही परिवार के 5 शव मिलने से सनसनी

News update live Bharat TV

बड़ी खबर उत्तर प्रदेश के एटा में एक ही परिवार के पांच लोगों के शव मिलने से सनसनी फैल गई है। घटना जनपद मुख्यालय में कोतवाली नगर क्षेत्र के श्रृंगार नगर मोहल्ले की है। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने गैस कटर से लोहे के दरवाजों को काटकर अंदर प्रवेश किया, तो घर के अंदर 5 डेडबॉडी देखकर पुलिस भी दंग रह गई। एटा के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार सिंह और जिला अधिकारी सुखलाल भारती ने घटनास्थल का निरीक्षण कर शवों को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया हैशुरुआत जांच में पुलिस को ये आत्महत्या का मामला लग रहा है, जबकि मृतक राजेस्वर प्रसाद पचौरी के सगे भाई व एटा कलेक्ट्रेट बार एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष वरिष्ठ वकील रामेस्वर प्रसाद पचौरी ने इसे हत्या बताया है। पुलिस मामले की विवेचना में जुट गयी है। मौके पर फोरेंसिक टीम ने भी कुछ सबूत जुटाए हैं। पुलिस का कहना है कि वास्तविकता का पता पोस्टमार्टम रिपोर्ट और जांच के बाद ही पता चलेगा।एटा जिले के कोतवाली नगर क्षेत्र में श्रंगार नगर कालोनी में एक मकान में 5 लोगों की संदिग्ध परिस्थितयों में मौत से पूरे जिले में सनसनी फैल गयी। स्वास्थ्य विभाग एटा के रिटायर्ड बुजुर्ग राजेश्वर प्रसाद पचौरी, उनकी बहू दिव्या, दिव्या की बहन बुलबुल और दिव्या के दो बेटे आयुष 8 वर्ष और अरब ए वर्ष की लाश घर के अंदर पड़ी मिली। जहां दिव्या की लाश लॉन में गेट के पास चारपाई पर मिली है और उसके हाथ की एक कलाई की नस कटी हुई थी। जिससे निकले खून के स्पॉट उसके कपड़ों पर भी थे। शनिवार सुबह जब आसपास के लोगों ने दिव्या के शव को गेट के अंदर पड़ा देखा, तो इसकी सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर गैस कटर से दरवाजा काटकर घर के अंदर प्रवेश किया, तो घटना का सीन देखकर दंग रह गयी।वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एटा सुनील कुमार सिंह ने बताया कि घटना की सूचना पर कोतवाली नगर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर गैस कटर से लोहे का दरवाजा काटकर अंदर प्रवेश किया, तो एक महिला की लाश बाहर चारपाई पर पड़ी थी। उसके मुंह से झाग निकल रहा था और अंदर राजेस्वर प्रसाद पचौरी, पुत्र बहु की बहन बुलबुल और दो बच्चों की डेडबॉडी पड़ी हुई थी, उनके मुंह से भी झाग निकल रहा था। उन्होंने बताया कि घर का सारा सामान व्यवस्थित था। बेड रूम से हार्पिक की खाली बोतल और सल्फास की गोली मिली है। किचेन का सारा सामान सही सलामत था, फिर भी किचेन के भगौने में रखे हुए दूध के सैंपल जांच को भेजे गए हैंपरिजनों द्वारा किसी से रंजिश भी नहीं बताई गई है। मृतक राजेश्वर के छोटे भाई रामेस्वर पचौरी बीती शाम 7 बजे इनके यहां आए थे और खाना देकर गए थे, तब तक सब कुछ ठीक था। उन्होंने बताया कि शवों का पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। फील्ड यूनिट और डॉग स्क्वायड टीम ने भी घटनास्थल का निरीक्षण कर सबूत जुटाए हैं । आसपास लगे सीसीटीवी के फुटेज भी खंगाले जा रहे है और आसपास के लोगों से पूछताछ की जा रही है। कई टीमें घटना के खुलासे के लिए गठित की गई हैं। सही स्थिति पोस्टमार्टम और जांच के बाद ही पता चलेगी। मृतक राजेस्वर के बेटे दिवाकर रुड़की में किसी फार्मा कंपनी में फार्मासिस्ट हैं, वो रास्ते में हैं, उनसे भी पूछताछ कर जानकारी जुटाई जाएगी

ब्यूरो रिपोर्ट एटा

उत्तर प्रदेश एवं उत्तराखंड

Related Articles

Close