Breaking Newsउत्तरप्रदेश

सीएम योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिया है कि ग्राम पंचायत की पहली बैठक में कोविड प्रोटोकाल का पालन किया जाए।

न्यूज़ नेटवर्क

लखनऊ  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिया है कि नवनिर्वाचित ग्राम प्रधानों और सदस्यों के शपथ ग्रहण और ग्राम पंचायत की पहली बैठक के कार्यक्रम में गांवों में कोविड प्रोटोकाल का अक्षरश: अनुपालन किया जाए। उन्होंने कहा कि यद्यपि यह कार्यक्रम वर्चुअल माध्यम से होना है फिर भी यह सुनिश्चित किया जाए कि प्रदेश में कहीं भी जुलूस, सभा आदि का आयोजन न हो।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सोमवार को वाराणसी प्रवास के दौरान टीम 9 के साथ वर्चुअल माध्यम से प्रदेश में कोरोना संक्रमण की स्थिति की समीक्षा कर रहे थे। कोरोना की तीसरी लहर से बचाव के लिए उन्होंने सभी मेडिकल कालेजों में पीडियाट्रिक आइसीयू और एनआइसीयू को तेजी से स्थापित करने पर जोर दिया। कहा कि प्रदेश के सभी 58 मेडिकल कालेजों में 100-100 बेड के पीआइसीयू स्थापित किए जाने हैं। इनके साथ 50 बेड का एनआइसीयू भी होना चाहिए। अभी प्रदेश में 1900 बेड की क्षमता है जिसे बढ़ाकर 5800 करना है। उन्होंने आजमगढ़, बांदा, जालौन सहित ऐसे सभी जिले जहां 300 से 400 बेड के सरकारी अस्पताल हैं, उनकी क्षमता बढ़ाकर 700 से 800 बेड करने का निर्देश दिया।

प्रदेश में बनाए जा रहे प्राथमिक व सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों के निर्माण कार्य को तेजी से पूरा करने पर जोर देते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इसकी निगरानी के लिए एक नोडल अधिकारी भी नियुक्त करने के लिए कहा। सीएचसी व पीएचसी में उपकरणों की मरम्मत, क्रियाशीलता, परिसर की रंगाई-पुताई, सफाई और मानव संसाधन की पर्याप्त उपलब्धता के बारे में उन्होंने विशेष कार्यवाही करने के लिए कहा। इन सब की मानीटरिंग के लिए टीम गठित करने का निर्देश दिया। बेसिक शिक्षा विभाग में संचालित आपरेशन कायाकल्प की तर्ज पर जनप्रतिनिधियों के सहयोग से ग्रामीण क्षेत्रों में चिकित्सा अवस्थापना सुविधाओं को विकसित करने की हिदायत दी।

Related Articles

Close