Breaking News

बरेली में शुक्रवार को जुमे की नमाज शांति के साथ अदा की गई प्रशासन और पुलिस के अफसरों ने राहत की सांस ली है

बरेली में शांतिपूर्ण ढंग से हुई जुमे की नमाज, इमाम एवं प्रशासनिक अधिकारियों ने दी बुराइयों से बचने की दी हिदायत ,

बरेली में शुक्रवार को जुमे की नमाज शांति (अमन) के साथ अदा की गई. कहीं से भी किसी बवाल की सूचना नहीं आई है. इससे प्रशासन और पुलिस के अफसरों ने राहत की सांस ली है. पैग़ंबर-ए-इस्लाम की शान में भाजपा की पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा के विवादित बयान के बाद कानपुर, इलाहाबाद, सहारनपुर समेत देश के तमाम हिस्सों में जुमे की नमाज के बाद लोगों ने गुस्से का इजहार किया था. जिसके चलते काफी बवाल भी हुआ.

शुक्रवार को जुमे की नमाज अमन के साथ अदा हो गई है. डीएम शिवाकांत द्विवेदी एसएसपी रोहित सिंह सजवाण समेत तमाम अफसर शहर की मस्जिदों के साथ ही जगह-जगह निगरानी कर रहे थे. लोगों को अमन का पैगाम दिया जा रहा था. शहर की जामा मस्जिद, सैलानी मस्जिद,रोहली टोला मस्जिद समेत तमाम मोहल्लों और कॉलोनियों की मस्जिद में अमन के साथ नमाज अदा की गई. नमाजी जुमे की नमाज अदा कर अपने घरों को चले गए. कहीं से भी किसी तरह के विवाद की बात सामने नहीं आई है.

जुमे की नमाज से पहले मस्जिद के इमाम ने पैगंबर-ए- इस्लाम की जिंदगी पर रोशनी डाली. उन्होंने कहा कि, पैग़ंबर-ए- इस्लाम ने पूरी जिंदगी इस्लाम की खिदमत की. अमन का पैगाम दिया है. इसलिए पैग़ंबर-ए-इस्लाम की जिंदगी पर अमल करें. बुराइयों से बचने की ताकीद (हिदायत) की गई. दरगाह आला हजरत दरगाह के सज्जादानशीन के मीडिया प्रभारी नासिर कुरेशी ने शहर की मस्जिदों में अमन के साथ नमाज होने की बात कही.

इसके साथ ही बरेली मंडल के बदायूं, पीलीभीत और शाहजहांपुर में भी नमाज के बाद अमन रहा है. कहीं से कोई विवाद की बात सामने नहीं आई है.एडीजी राजकुमार ,आईजी रेंज समेत तमाम अफसर अपने-अपने जिलों में नमाज अमन के साथ अदा कराने को लेकर कोशिश में थे.इस दौरान नमाजियों की ड्रोन कैमरों से भी निगरानी की गई.

मस्जिदों में संदिग्ध पर निगाह
दरगाह आला हजरत से जुमे की नमाज से पहले मुसलमानों से अपील की गई है.इसमे जुमे की नमाज के दौरान असामाजिक तत्व नमाजी के वेशभूषा में मस्जिद मे आकर नमाज के बाद हंगामा करके मुसलमानों को बदनाम करने और माहौल बिगाड़ने का काम कर सकते हैं.इसलिए ऐसे लोगों पर निगाह रखने की बात कही थी.इसके साथ ही सत्यापन कर संधिग्ध की सूचना पुलिस को देने की बात कही थी.

आईएमसी का यौम-ए-दुरूद 19 को
इत्तेहाद ए मिल्लत काउंसिल (आईएमसी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष मौलाना तौकीर रजा खां ने 17 जून को धरना प्रदर्शन का ऐलान किया था. मगर, शांति व्यवस्था को लेकर यह प्रोग्राम बुधवार में टाल दिया गया. यह कार्यक्रम 19 जून को इस्लामिया मैदान में होगा. इस कार्यक्रम का नाम यौम-ए-दुरूद दिया गया है.इसमें बड़ी संख्या में लोगों के जुटने की उम्मीद जताई जा रही है. फिलहाल इस कार्यक्रम के लिए जिला प्रशासन की तरफ से परमिशन दे दी गई

ब्यूरो रिपोर्ट एजेंसी

Related Articles

Back to top button